Only GK

विज्ञान के प्रमुख उपकरण व उनके प्रयोग – 10 मिनट में याद करें

science gk equipment and their uses list in hindi
Written by Nitin Gupta

नमस्कार दोस्तो, इस पोस्ट में हम आपको विज्ञान के प्रमुख उपकरण और वे किस कार्य के लिये प्रयोग में आते है ( Science Equipment and Their Uses ) इसकी List उपलब्ध कराऐंगे ! दोस्तो इस Topic से 1-2 Question हर प्रतियोगी परीक्षा में आते रहते है ! तो आप इस List को 2 – 3 बार पढिये ताकि ये आपको अच्छे से याद हो जायें ! 

सभी बिषयवार Free PDF यहां से Download करें

Join Here – नई PDF व अन्य Study Material पाने के लिये अब आप हमारे Telegram Channel को Join कर सकते हैं !

Science Equipment and Their Uses

  • Altimeter – यह ऊँचाई मापक यंत्र है ! जिसका प्रयोग विमानों में किया जाता है !
  • Anemometer – इससे वायु का बल, गति को मापा जा सकता है ! यह वायु की दिशा परिवर्तन भी करता है !
  • Audiometer – इससे ध्वनि की तीव्रता को मापा जा सकता है !
  • Audiophone – इसे सुनने की मशीन कहा जाता है इसे लोग सुनने में सहायता के लिए कानों में लगाते है !
  • Actimometer – विद्युत चुम्बकीय विकिरण (Magnetic Radiation) तीव्रता मापने का यंत्र है !
  • Aerometer – यह वायु और गैसों के घनत्व को मापने वाला यंत्र है !
  • Astrometer – तारों की प्रकाश की तीव्रता को मापने वाला यंत्र कहते है !
  • Antiaircraft Gun – गोला मारकर हवाई जहाज गिराने की तोप है !
  • Accelerometer– वाहन के त्वरण को मापने वाला यंत्र है !
  • Barograph– यह वायुमण्डल के दाब में होने वाले परिवर्तन को लगातार मापता रहता है और स्वतः ही इसका ग्राफ भी बता देता है !
  • Binoculars– इससे दूर स्थित वस्तुयें स्पष्ट देखी जा सकती है !
  • Bolometer– यह ऊष्मीय विकिरण (Heat Radiation) को मापने का यंत्र है !
  • Callipers– इससे वृत्ताकार वस्तुओं के भीतरी तथा बाहरी ब्यास को मापा जा सकता है। इससे मोटाई भी मापी जा सकती है !
  • Calorimeter– इससे ऊष्मा की मात्रा को मापा जा सकता है !
  • Cardiograph – हृदय गति को मापने में इसका प्रयोग होता है !
  • Compass needle– यह दिशा सूचक यंत्र है ! इसके द्वारा किसी स्थान पर दिशाओं का पता पड़ जाता है !
  • Chronometer– यह यंत्र जलयानों पर सही समय मापने में उपयोग किया जाता है !
  • Cesco graph– पेड़ पौधों की वृद्धि मापने का यंत्र है !
  • Carburetor– इसमें अन्र्तग्रहण पेट्रोल इंजनों में पेट्रोल तथा हवा का मिश्रण बनाया जाता है !
  • Cymograph– रूधिर दाब के ग्राफ कों बनाने का यंत्र है !
  • Cytotron– कृत्रिम मौसम उत्पन्न करने में काम आने वाला यंत्र है !
  • Cytoscope– इसका प्रयोग मूत्राशय के आंतरिक भागों को सीधे ही देखने में किया जाता है !
  • Dynamo– इसका प्रयोग यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलने में होता है !
  • Dynamometer– विद्युत शक्ति को मापने के लिए इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है !
  • Dictaphone– अपनी बात तथा आदेश दूसरे व्यक्ति को सुनाने के लिए इस यंत्र द्वारा ‘‘रिकार्ड’’ किया जाता है !
  • Dilatometer– यह यंत्र किसी वस्तु में उत्पन्न आयतन के परिवर्तन को मापता है !
  • Electric meter– विद्युत ऊर्जा को यांत्रिक में बदलने वाला यंत्र है !
  • Electrometer– विद्युत आवेश की उपस्थिति तथा उसकी प्रकृति का पता लगाने में इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है !
  • Eudiometer– इसके द्वारा गैसों में रासायनिक क्रिया के कारण आयतन में होने वाले परिवर्तनों को नापा जा सकता है !
  • E.G (Electro Encephalo Graph)– यह यंत्र मस्तिष्क की तरंगों को रिकार्ड करता है तथा उनकी व्याख्या भी करता है !
  • Endoscope– यह वह यंत्र है जिसे शरीर के अंदर प्रवेश कराके अंदर की संरचना व विकारों को देखा जा सकता है !
  • Flux meter– इस यंत्र के द्वारा चुम्बकीय फ्लेक्स को मापा जा सकता है !
  • Galvanometer– विद्युत परिपथों में विद्युत धारा की दिशा बताने बाला एवं उसकी तीव्रता मापने वाला यंत्र है !
  • Gravimeter– पानी की सतह पर तेल की उपस्थिति ज्ञात करने में इस यंत्र का प्रयोग होता है !
  • Geiger-Muller-counter– इससे किसी रेडियो एक्टिव स्त्रोत से निकलने वाले विकिरणों को मापा जाता है ! इसे केवल गाइगर काउन्टर भी कहते है !
  • Gramophone– इसके द्वारा रिकार्ड पर अंकित संकेत सुनने के लिये उपयोग में लाया जाता है !
  • Gyroscope– घूमती हुई वस्तुओं की गति मापने के लिये इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है !
  • Gyrograph– घूमते हुये पहिये के चक्कर गिनने में इसका प्रयोग होता है !
  • Hydrometer– द्रवों के आपेक्षित घनत्व ज्ञात करने में इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है !
  • Hygrometer– वायुमण्डल की आर्द्रता को मापने के लिये इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है !
  • Hydrophone– पानी के अंदर तरंगों को संसूचित (Detect) करने वाला यंत्र है !
  • Hygroscope– यह वायुमण्डलीय आर्द्रता में परिवर्तन दिखाने वाला यंत्र है !
    Hypsometer– यह द्रवों के क्वथनांक (Boiling Point) ज्ञात करने वाला यंत्र है !
  • Konimeter– वायु में उपस्थित धूल की मात्रा को मापा जा सकता है !
  • Kymograph– यह यंत्र रक्तचाप (Blood Pressure), हृदय स्पंदन (Heart Beat) आदि शारीरिक गतियों या कारकों के परिवर्तन का ग्राफ बनाता है !
  • Lactometer– यह दूध की शुद्धता को मापने वाला एक यंत्र है। इससे दूध का आपेक्षित घनत्व मापा जाता है जिससे दूध में उपस्थित पानी की मात्रा का पता चल जाता है !
  • Manometer– इसके द्वारा गैस या द्रव का दाव मापा जाता है !
  • Magnetron– विशेष प्रकार की ट्यूब जो बहुत छोटी तरंग-दैध्र्य (Wave Length) वाली सूक्ष्म तरंगें (Micro Waves) उत्पन्न करती है !
  • Microtome– इसे किसी वस्तु को काटने (पतले भागों में) उपयोग होता है !
  • Nephoscope– बादलों की तीव्रता व दिशा को देखने के लिए इसका प्रयोग होता है !
  • Nephetometer– द्रव में लटके हुये कणों द्वारा प्रकाश का प्रकीर्णन नापता है !
  • Odometer– मोटर की गाड़ी की गति मापने वाला यंत्र भी कहा जाता है ! इसमें मोटर गाड़ी की गति को ज्ञात किया जाता है !
  • Ondometer– यह यंत्र विद्युत चुम्बकीय तरंगों की आव्रति को नापता है ! विशेषतः रेडियों आव्रति बैंड में इसका प्रयोग होता है !
  • Otoscope– इसके द्वारा कानों का परीक्षण किया जाता है !
  • Saccharin meter– यह यंत्र किसी घोल में उपस्थित शक्कर की मात्रा को नापता है !
  • Viscometer– यह यंत्र द्रव की श्यानता (गाढ़ापन) को मापता है !
  • Voltmeter– किन्ही दो बिन्दुओं के मध्य विद्युत विभान्तर मापने में इसका प्रयोग होता है !
  • Velometer– यह यंत्र वायु की गति को ध्वनि की गति के पदों में मापता है !
  • Micrometer– बहुत छोटे व्यासों और मोटाईयों को मापने के लिये इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है !
  • Periscope– पनडुब्बी के अन्दर से बाहर देखने में इस यंत्र का प्रयोग होता है !
  • Phonograph– ध्वनि तरंगों को पुनः ध्वनि में परिवर्तन किया जाता है !
  • Phonometer– इसके द्वारा ध्वनि के स्तर को मापा जा सकता है !
  • Veturimeter– द्रव की प्रवाह दर मापनें के लिये इस यंत्र का प्रयोग होता है !
  • Microphone– यह यंत्र ध्वनि तरंगों को विद्युत स्पंदनों में परिवर्तित करता है !
  • Quadrant– इसके द्वारा नौचालन (Navigation) तथा खगोल विज्ञान में ऊॅंचाइयों को मापा जाता है !
  • Photometer– प्रकाश के घनत्व को इसके द्वारा मापा जा सकता है !
  • Pyrometer– इसके द्वारा उच्च तापमान को मापा जाता है !
  • Potentiometer– इससे किसी सेल के विद्युत बाहक बल एवं आंतरिक प्रतिरोध की माप होती है !
  • Radiater– गाड़ियों के इंजनों को ठण्डा करने में इस यंत्र का प्रयोग होता है !
  • Rainguage (रेनगेज) – किसी भी स्थान की वर्षा को मापने वाला यंत्र है !
  • Radiometer– रेडियों तरंगों की तीव्रता को मापने के लिये इस यंत्र का प्रयोग होता है !
  • Refract meter– इस यंत्र से अपवर्तन मापा जाता है !
  • Salinometer– यह यंत्र घोल की लवणता या नमक की मात्रा को मापता है !
  • Seismograph– भूकंप की तीव्रता मापने के लिये इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है !
  • Speedometer– इससे मोटर गाड़ियों की गति को मापा जाता है !
  • Sphygmomanometer– धमनियों में रक्त दाब मापने के लिये इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है !
  • Sphygmo phone – रक्त की ध्वनि सुनने में इस यंत्र का प्रयोग किया जाता है !
  • Stethoscope– इस यंत्र से डाक्टरों द्वारा हृदय, फैफड़ो की ध्वनि सुनने तथा उसकी व्याख्या की जाती है !
  • Sextant– इस यंत्र द्वारा सूदूर के पर्वत, वृक्ष, आदि की ऊॅंचाई मापी जाती है ! नौचालक इससे किसी स्थान के अंक्षाश भी मापते है !
  • Stroboscope– तीव्र गति से गति करने वाली वस्तुओं को देखने के लिए इसका प्रयोग होता है !
  • Techometer– वायुयान तथा मोटर कारों की गतियों को मापा जाता है !
  • Transformer– AC धारा के Current को कम या ज्यादा करने में इसका प्रयोग होता है !
  • Telemeter– इस यंत्र के द्वारा दूर होने वाली भौतिक घटनाओं का पता चल जाता है !
  • Transponder– यह यंत्र ‘‘Signal’’ संकेत को ग्रहण करना और उसके उत्तर को तुरन्त प्रेषित करता है !
  • TelePrinter– यह यंत्र एक स्थान से दूसरे स्थान तक टाइप किये हुये समाचार को भेजता है और उनका अधिग्रहण करता है !
  • Udometer– यह एक वर्षामापक यंत्र है !
  • Ultrasonic scope– यह ध्वनि ‘‘Ultra Sound’’ को मापता है और उसकेा प्रयुक्त करता है ! इसका प्रयोग मस्तिष्क में ट्यूमर, हृदय रोगों का पता लगाने में होता है !
  • Wave meter– किसी रेडियों तरंग की तरंगदैध्र्य मापने में इसका प्रयोग होता है !

संबंधित महत्वपूर्ण GK Tricks – 

दोस्तो आप मुझे ( नितिन गुप्ता ) को Facebook पर Follow कर सकते है ! दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इस Facebook पर Share अवश्य करें ! क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !

दोस्तो कोचिंग संस्थान के बिना अपने दम पर Self Studies करें और महत्वपूर्ण पुस्तको का अध्ययन करें , हम आपको Civil Services के लिये महत्वपूर्ण पुस्तकों की सुची उपलब्ध करा रहे है –

About the author

Nitin Gupta

GK Trick by Nitin Gupta पर आपका स्वागत है !! अपने बारे में लिखना सबसे मुश्किल काम है ! में इस विश्व के जीवन मंच पर एक अदना सा और संवेदनशीलकिरदार हूँ जो अपनी भूमिका न्यायपूर्वक और मन लगाकर निभाने का प्रयत्न कर रहा हूं !! आप मुझे GKTrickbyNitinGupta का Founder कह सकते है !
मेरा उद्देश्य हिन्दी माध्यम में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने बाले प्रतिभागियों का सहयोग करना है !! आप सभी लोगों का स्नेह प्राप्त करना तथा अपने अर्जित अनुभवों तथा ज्ञान को वितरित करके आप लोगों की सेवा करना ही मेरी उत्कट अभिलाषा है !!

4 Comments

Leave a Comment