IAS Motivation – बडे सपने पर छोटी शुरुआत

नमस्कार दोस्तो इस लेख में हम आपको शरद तिवारी सर का एक महत्वपूर्ण लेख ” बडे सपने पर छोटी शुरुआत ” बताने जा रहे है , तो दोस्तो आप इस लेख को पढिये और नीचे Comment Box में अपनी राय दीजिये ! तो चलिये दोस्तो शुरु करता हूं शरद सर के शब्दों में !




आज जब छात्र तैयारी की शुरुआत करता है तो उत्साह से भरा हुआ होता है और इसी कारण वह तैयारी की शुरुआत बड़ी तेजी से करता है और निर्णय लेता है की प्रतिदिन 8 -10 घंटे पढ़ना है और इन घंटों में जाने कितने विषय समायोजित करता है ….वह तैयारी तो तेजी से शुरू करता है पर उसे निरंतर नहीं रख पाता दो या तीन दिन बाद ही उसका उत्साह कम हो जाता है और धीरे धीरे उसकी 8 घंटे की पढाई 6 फिर 5 फिर 4 फिर 2 और फिर 1 घंटे में बदल जाती है ……. क्या इतनी बड़ी शुरुआत करना उचित है ? …क्या आपका दिमाग पहले से 8 से 10 घंटे लगातार पढ़ने के लिए तैयार है ?….शायद नहीं ….. दोस्तों ऐसा सभी के साथ होता है तो कृपया इसमें सुधार कीजिये और पहले दिन की शुरुआत छोटी कीजिये फिर रोज इसमें थोड़ा थोड़ा समय जोड़ते जाइये इस तरह आपकी आदत 8 से 10 घंटे पढ़ने की बन जाएगी और आपका उत्साह भी काम नहीं होगा ….पहले दिन 1 या 2 घंटे से शुरुआत कीजिये फिर 3 ,4 .5 .6 और फिर और आगे बढ़ाते जाइये !


इस तरह के उदाहरण आप रोज अपने परिवेश में भी देखते हो ..एक कुशल धावक दौड़ में शुरू के समय धीमे ही दौड़ता है और फिर ज्यो ज्यो लक्ष्य पास आता जाता है अपनी स्पीड बढ़ाता जाता है …..अरे आप सभी क्रिकेट के तो दीवाने ही होंगे न तो जरा सोचिये जब कोई नया बल्लेबाज क्रीज पर आता है तो क्या वह शुरू की पहली बॉल से छक्का और चौके शुरू कर देता है नहीं न ..गुरू शरद.. पहले वह परिस्थिति को समझता है , खुद को उस माहौल में ढालता है और एक या दो बॉल धीमे ही खेलता है ….बस यही तो आपको भी करना चाहिए ……! 





दोस्तों और एक बात कई लोग एक दिन 8 घंटे पढ़ लेते हैं फिर दूसरे दिन किताब खोलते तक नहीं है कि हमने कल तो इतना सारा पढ़ लिया अब कल पढ़ लेंगे ….ऐसा बिल्कुल मत कीजिये आईएएस निरंतरता मांगता है ..भले ही आप एक दिन में 8 की जगह सिर्फ 4 घंटे ही पढ़ें पर इसे निरंतर बनाये रखें ! काम की अल्पता नहीं बल्कि अनियमितता इंसान की असफलता का कारण बनती है ! 


दोस्तों जिंदगी बहुत छोटी है और हमारे सपने बहुत बड़े तो जायज है हमे तेज चलना होगा …. कहते तो सभी हैं हमे करके दिखाना होगा ….

हर दिन अपनी जिंदगी को एक नया ख्वाब दो , चाहे कोई लौटकर न आये पर आवाज दो , एक दिन पुरे हो ही जायेंगे सारे ख्वाब तुम्हारे , बस हर दिन उन ख्वाबों को एक छोटी शुरुआत तो दो।

दोस्तो आप मुझे ( नितिन गुप्ता ) को Facebook पर Follow कर सकते है ! दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इस Facebook पर Share अवश्य करें ! क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !

जरूर पढें –

Thanks For  – शरद तिवारी सर

दोस्तो कोचिंग संस्थान के बिना अपने दम पर Self Studies करें और महत्वपूर्ण पुस्तको का अध्ययन करें , हम आपको Civil Services के लिये महत्वपूर्ण पुस्तकों की सुची उपलब्ध करा रहे है –

Note – अब आप हमारी Android App को यहां पर Click करके Google Play Store से Download कर सकते है






TAG – IAS Success Stories of Average Students , Success Story in Hindi , UPSC Topper Interview , How to Become an IAS Officer , How to Become IAS , IAS Motivation , Tina Dabi IAS , IAS Topper Interview , How to Prepare for IAS in Hindi , IAS Topper Interview 2016 , IAS Success Stories Without Coaching , Motivational Success Stories in Hindi

Author: Nitin Gupta

GK Trick by Nitin Gupta पर आपका स्वागत है !! अपने बारे में लिखना सबसे मुश्किल काम है ! में इस विश्व के जीवन मंच पर एक अदना सा और संवेदनशीलकिरदार हूँ जो अपनी भूमिका न्यायपूर्वक और मन लगाकर निभाने का प्रयत्न कर रहा हूं !! आप मुझे GKTrickbyNitinGupta का Founder कह सकते है !
मेरा उद्देश्य हिन्दी माध्यम में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने बाले प्रतिभागियों का सहयोग करना है !! आप सभी लोगों का स्नेह प्राप्त करना तथा अपने अर्जित अनुभवों तथा ज्ञान को वितरित करके आप लोगों की सेवा करना ही मेरी उत्कट अभिलाषा है !!

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *